Up police के पेपर लीक होने पर अखिलेश यादव ने किया युवाओं का सपोर्ट:

UP पुलिस के पेपर लीक होने की घटना पर समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने युवाओं का सपोर्ट किया है। उन्होंने कहा कि यह घटना योगी सरकार की "नाकामी" का प्रमाण है और यह राज्य के युवाओं के साथ "अन्याय" है। 

अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, "UP पुलिस का पेपर लीक होना योगी सरकार की नाकामी का प्रमाण है। यह राज्य के युवाओं के साथ अन्याय है। मैं सभी युवाओं के साथ हूं और उनकी लड़ाई में उनका साथ दूंगा।" 

उन्होंने कहा कि योगी सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को इस मामले में कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए और दोषियों को सजा देनी चाहिए। 

अखिलेश यादव की मांगें: पेपर लीक मामले की उच्चस्तरीय जांच हो। दोषियों को सख्त सजा दी जाए। परीक्षा दोबारा आयोजित की जाए।

विपक्ष का आरोप: विपक्षी दलों ने भी योगी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि यह घटना सरकार की "अक्षमता" और "भ्रष्टाचार" का प्रमाण है।

सरकार का बचाव: योगी सरकार ने कहा है कि वह मामले की जांच कर रही है और दोषियों को सजा दी जाएगी। 

युवाओं का गुस्सा: पेपर लीक होने से युवाओं में काफी गुस्सा है। वे सरकार से मांग कर रहे हैं कि इस मामले में कड़ी कार्रवाई की जाए 

युवाओं का गुस्सा: पेपर लीक होने से युवाओं में काफी गुस्सा है। वे सरकार से मांग कर रहे हैं कि इस मामले में कड़ी कार्रवाई की जाए 

यह पेपर लीक घटना 18 फरवरी, 2024 को हुई थी। यह पेपर UP पुलिस की भर्ती परीक्षा का था। इस परीक्षा में लाखों युवा शामिल हुए थे। पेपर लीक होने के बाद परीक्षा रद्द कर दी गई थी।

CM योगी आदित्यनाथ ने DGP और गृह विभाग को भर्ती रद्द करने के दिए निर्देश