Sunil Chhetri ; 1 ऐसा भारतीय फुटबॉल जगत का खिलाड़ी जिसने किया अपने सन्यास का एलान आख़िर क्या हुआ है उनके साथ जाने ?

By Pankaj yadav

Updated on:

Sunil Chhetri ; 1 ऐसा भारतीय फुटबॉल जगत का खिलाड़ी जिसने किया अपने सन्यास का एलान आख़िर क्या हुआ है उनके साथ जाने ?

Table of Contents

Sunil Chhetri के बारे में :

Sunil Chhetri के सन्यास: भारतीय फुटबॉल के एक युग का अंत

16 मई, 2024 को, भारतीय फुटबॉल के दिग्गज खिलाड़ी और कप्तान, सुनील छेत्री ने अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से सन्यास लेने की घोषणा की। 6 जून, 2024 को कुवैत के खिलाफ फीफा विश्व कप 2026 क्वालिफायर मैच उनके करियर का आखिरी मैच होगा।

Sunil Chhetri ; 1 ऐसा भारतीय फुटबॉल जगत का खिलाड़ी जिसने किया अपने सन्यास का एलान आख़िर क्या हुआ है उनके साथ जाने ?

39 वर्षीय छेत्री ने 19 साल तक भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया, जिसमें उन्होंने 150 मैचों में 84 गोल किए। वह अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल में दूसरे सबसे ज्यादा गोल करने वाले एशियाई खिलाड़ी हैं, और विश्व में तीसरे स्थान पर हैं।

सुनील छेत्री को भारतीय फुटबॉल का महानतम खिलाड़ी माना जाता है। उन्होंने अपनी अदम्य जिद, नेतृत्व क्षमता, और गोल करने की अद्भुत क्षमता से देश को कई ऐतिहासिक जीत दिलाई।

उनके सन्यास की खबर से भारतीय फुटबॉल जगत में शोक की लहर दौड़ गई है। प्रशंसक, खिलाड़ी, और नेता सभी उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं और भारतीय फुटबॉल में उनके योगदान को याद कर रहे हैं।

Sunil Chhetri ने सन्यास का फैसला मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी चिंताओं के कारण लिया। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल के दबाव और तनाव से निपटना उनके लिए मुश्किल हो रहा था।

सन्यास के बाद भी छेत्री फुटबॉल से जुड़े रहेंगे। वह बेंगलुरु एफसी के लिए खेलना जारी रखेंगे और युवा खिलाड़ियों को प्रशिक्षित करने में भी मदद करेंगे।

क्या Mirzapur 3 में नजर आ सकते हैं मुन्ना त्रिपाठी (दिव्येंदु शर्मा)

सुनील छेत्री भारतीय फुटबॉल के इतिहास में हमेशा सुनहरे अक्षरों में लिखे जाएंगे। वह लाखों युवाओं के लिए प्रेरणा हैं और भारतीय फुटबॉल को नई ऊंचाइयों तक ले जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

Sunil Chhetri बने पहले भारतीय फुटबॉल खिलाड़ी जिनके पास इतनी उपलब्धियां ?

यहां कुछ महत्वपूर्ण तथ्य दिए गए हैं जो सुनील छेत्री के करियर को दर्शाते हैं:

अंतरराष्ट्रीय मैच: 150
अंतरराष्ट्रीय गोल: 84 (एशिया में दूसरे, विश्व में तीसरे)
आई-लीग खिताब: 5 (ईस्ट बंगाल, मोहन बागान, बेंगलुरु एफसी)
एएफसी कप: 1 (बेंगलुरु एफसी)
सैफ चैम्पियनशिप: 1 (भारतीय टीम)
भारतीय फुटबॉलर ऑफ द ईयर: 8 बार
अर्जुन पुरस्कार: 2007
पद्म श्री: 2011
पद्म भूषण: 2019

आखिर क्यों ले लिया सन्यास क्या हुआ है Sunil Chhetri के साथ जाने क्या है सच ?
सुनील छेत्री एक सच्चे चैंपियन हैं और भारतीय फुटबॉल के इतिहास में हमेशा सम्मानित किए जाएंगे।

Sunil Chhetri से क्यों नहीं करना चाहते थे सुभाष भट्टाचार्य अपनी बेटी की सादी ?

सुनील छेत्री की पत्नी और विवाह के बारे में

Sunil Chhetri ; 1 ऐसा भारतीय फुटबॉल जगत का खिलाड़ी जिसने किया अपने सन्यास का एलान आख़िर क्या हुआ है उनके साथ जाने ?

सुनील छेत्री ने सोनम भट्टाचार्य से शादी की है।

विवाह:

तारीख: 10 दिसंबर 2010
स्थान: गुवाहाटी, असम

पत्नी:

नाम: सोनम भट्टाचार्य
व्यवसाय: गृहिणी

पृष्ठभूमि:

सोनम गुवाहाटी, असम की रहने वाली हैं।
उनके पिता, सुभाष भट्टाचार्य, सुनील छेत्री के पूर्व कोच थे।

क्या आपने कभी सुना है कि पाद भी बिकता है , पाद मार मार के बनाए 80Cr से भी ज्यादा जाने कौन है वो ?
विवाह के बारे में रोचक तथ्य:

Sunil Chhetri ने सोनम से शादी करने के लिए अपना करियर दांव पर लगा दिया था।
उनके ससुर, सुभाष भट्टाचार्य, नहीं चाहते थे कि Sunil Chhetri उनकी बेटी से शादी करें क्योंकि वो चाहते थे कि सुनील फुटबॉल पर ध्यान दें।
लेकिन, सुनील छेत्री ने सोनम से शादी करने का फैसला किया और उनके ससुर को शादी के लिए मना लिया।
सुनील छेत्री और सोनम का एक बेटा है, जिसका जन्म 31 अगस्त 2023 को हुआ था।

Sunil Chhetri के रिकॉर्ड

अंतरराष्ट्रीय:

सर्वाधिक गोल: 94 गोल (26 मार्च 2024 तक)
सर्वाधिक मैच: 150 मैच (26 मार्च 2024 तक)
सर्वाधिक हैट्रिक: 4 हैट्रिक (भारतीय खिलाड़ी द्वारा सर्वाधिक)
दो गोल: 16 बार
सर्वाधिक गोल नेपाल के खिलाफ: 9 गोल
एआईएफएफ प्लेयर ऑफ द ईयर: रिकॉर्ड 7 बार (2007, 2011, 2013, 2014, 2017, 2018–19, 2021–22)

कप्तानी में:

2011, 2015, 2021 और 2023 में SAFF चैम्पियनशिप जीती।
2008 में AFC चैलेंज कप जीता (भारत को 27 साल बाद AFC एशियन कप में पहुंचाया)।
2018 में इंटरकांटिनेंटल कप जीता।

Sunil Chhetri ; 1 ऐसा भारतीय फुटबॉल जगत का खिलाड़ी जिसने किया अपने सन्यास का एलान आख़िर क्या हुआ है उनके साथ जाने ?

क्लब:

सर्वाधिक गोल: 158 गोल (515 मैचों में)
आईएसएल में 50 गोल: पहले खिलाड़ी
आईएसएल में सर्वाधिक गोल करने वाले भारतीय: 50 गोल
आई-लीग में सर्वाधिक गोल करने वाले भारतीय: 83 गोल
बेंगलुरु एफसी के लिए सर्वाधिक गोल: 67 गोल
भारत में शीर्ष-स्तरीय फुटबॉल लीगों में सर्वाधिक गोल: 150 गोल

पुरस्कार:

खेल रत्न: 2019 में (पहले भारतीय फुटबॉलर)
अर्जुन पुरस्कार: 2007
पद्मश्री: 2011
एफटीआरसी अवार्ड्स:
2017-18 में हीरो ऑफ द लीग
2017-18 में आईएसएल में सर्वश्रेष्ठ भारतीय खिलाड़ी
2018-19 में आईएसएल में सर्वश्रेष्ठ भारतीय खिलाड़ी

अन्य:

2022 में फीफा द्वारा ‘कैप्टन फैंटास्टिक’ नामक वृत्तचित्र
भारतीय फुटबॉल के सबसे प्रतिष्ठित और प्रेरणादायक खिलाड़ियों में से एक

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि ये रिकॉर्ड 26 मार्च 2024 तक के हैं।

 

Pankaj yadav

पंकज यादव (रॉयल) एक प्रसिद्ध खेल समाचार एंकर हैं जो अपनी मनोरम प्रस्तुति और व्यावहारिक विश्लेषण के लिए जाने जाते हैं। स्क्रीन पर प्रभावशाली उपस्थिति के साथ, उन्होंने विभिन्न खेल आयोजनों के व्यापक कवरेज के लिए एक वफादार अनुयायी अर्जित किया है। सटीक और आकर्षक सामग्री प्रदान करने के प्रति उनके समर्पण ने खेल पत्रकारिता की दुनिया में एक विश्वसनीय आवाज के रूप में उनकी प्रतिष्ठा को मजबूत किया है।

Leave a Comment