Shreyas Iyer ; 1 इनफॉर्म बल्लेबाज़ जिसने वर्ल्ड कप में अपने बल्ले से बरसाया कहर , BCCI ने फिर भी किया बाहर आखिर क्यों ?

By Pankaj yadav

Published on:

Shreyas Iyer ; 1 इनफॉर्म बल्लेबाज़ जिसने वर्ल्ड कप में अपने बल्ले से बरसाया कहर , BCCI ने फिर भी किया बाहर आखिर क्यों ?

Table of Contents

Shreyas Iyer: एक प्रतिभाशाली क्रिकेटर

जन्म: 6 दिसंबर 1994, मुंबई
टीमें: भारतीय क्रिकेट टीम, कोलकाता नाइट राइडर्स, वेस्ट ज़ोन क्रिकेट टीम
भूमिका: दाएं हाथ के बल्लेबाज, दाएं हाथ के ऑफ ब्रेक गेंदबाज

Shreyas Iyer ; 1 इनफॉर्म बल्लेबाज़ जिसने वर्ल्ड कप में अपने बल्ले से बरसाया कहर , BCCI ने फिर भी किया बाहर आखिर क्यों ?

Ishan Kishan ; भारतीय युवा बल्लेबाज़ का करियर संकट में , आखिर BCCI ने ऐसा क्यों किया , क्या सच में हटा दिया टीम से ?

प्रमुख उपलब्धियां:

2021 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट डेब्यू में शतक और अर्धशतक जड़ा
2022 में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में शतक जड़ा
2023 में श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज में शतक जड़ा
2023 आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप में भारत का प्रतिनिधित्व किया
2023 आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान

अन्य जानकारी:

Shreyas Iyer ने 2014 में घरेलू क्रिकेट में अपना डेब्यू किया था।
2017 में उन्हें पहली बार भारतीय टीम में शामिल किया गया था।
वह अपनी शानदार बल्लेबाजी तकनीक और शॉट चयन के लिए जाने जाते हैं।
उन्हें “मिडिल-ऑर्डर मास्टर” और “श्रेयू” के उपनाम से भी जाना जाता है।
वह सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं और उनके लाखों प्रशंसक हैं।

Dhruv Jurel ; 1 ऐसा खिलाड़ी जिसने अपने टेस्ट डेब्यू मैच में कंगारुओं को खीच के धोया, बल्ले की गर्जना से रचा इतिहास ?

Shreyas Iyer ; 1 इनफॉर्म बल्लेबाज़ जिसने वर्ल्ड कप में अपने बल्ले से बरसाया कहर , BCCI ने फिर भी किया बाहर आखिर क्यों ?
हालिया समाचार:

Shreyas Iyer ने हाल ही में रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल में मुंबई के लिए शानदार शतक जड़ा।
उन्हें 2024 आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप के लिए भारत की संभावित टीम में शामिल किया गया है।

Shreyas Iyer की उपलब्धियां:

घरेलू क्रिकेट:

2014-15 रणजी ट्रॉफी में मुंबई के लिए 7 मैचों में 53.71 की औसत से 483 रन बनाए।
2015-16 रणजी ट्रॉफी में मुंबई के लिए 9 मैचों में 68.88 की औसत से 867 रन बनाए और 3 शतक जड़े।
2017-18 विजय हजारे ट्रॉफी में मुंबई के लिए 9 मैचों में 54.66 की औसत से 546 रन बनाए और 2 शतक जड़े।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट:

2017 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे डेब्यू किया और 80 रन बनाए।
2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया और 75 रन बनाए।
2021 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 45.50 की औसत से 318 रन बनाए।
2022 में न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में 72.14 की औसत से 216 रन बनाए और 2 शतक जड़े।
2022 में श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज में 40.00 की औसत से 120 रन बनाए।

आईपीएल:

2015 में दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल्स) के लिए डेब्यू किया।
2020 में दिल्ली कैपिटल्स के लिए 17 मैचों में 51.88 की औसत से 519 रन बनाए और 4 अर्धशतक जड़े।
2022 में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए 14 मैचों में 43.71 की औसत से 421 रन बनाए और 3 अर्धशतक जड़े।

अन्य उपलब्धियां:

2015 में आईपीएल इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर का पुरस्कार जीता।
2018 में BCCI द्वारा अरुण जेटली अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।
यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यह श्रेयस अय्यर की उपलब्धियों की एक छोटी सूची है।

उन्होंने अपने करियर में कई अन्य उपलब्धियां हासिल की हैं।

Shreyas Iyer का हालिया प्रदर्शन

Shreyas Iyer ; 1 इनफॉर्म बल्लेबाज़ जिसने वर्ल्ड कप में अपने बल्ले से बरसाया कहर , BCCI ने फिर भी किया बाहर आखिर क्यों ?

John Abraham कि नई मूवी:जो तोड़ सकती है बॉक्स ऑफिस का रिकार्ड

Shreyas Iyer का हालिया प्रदर्शन मिलाजुला रहा है।

सकारात्मक पहलू:

वनडे क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन: 2023 विश्व कप में अय्यर ने शानदार प्रदर्शन किया। 11 मैचों में 66.25 की औसत और 113.24 की स्ट्राइक रेट से 530 रन बनाए।
टी20 में भी कुछ अच्छी पारियां: 2023 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 74 रन और श्रीलंका के खिलाफ 73 रन की महत्वपूर्ण पारियां खेलीं।
अनुभव और कौशल: अय्यर एक अनुभवी बल्लेबाज हैं और उनके पास सभी प्रारूपों में रन बनाने का कौशल है।

नकारात्मक पहलू:

अनिरंतरता: अय्यर का प्रदर्शन कभी-कभी अनिरंतर होता है।
चोटों का खतरा: अय्यर चोटों से ग्रस्त रहे हैं, जिसके कारण उन्हें कई मैचों से बाहर रहना पड़ा है।
केंद्रीय अनुबंध से बाहर: 2024 के लिए BCCI की केंद्रीय अनुबंध सूची से बाहर कर दिया गया है।

निष्कर्ष:

अय्यर एक प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं, लेकिन उन्हें अपनी निरंतरता पर ध्यान देने की आवश्यकता है। यदि वह चोटों से दूर रह सकते हैं और लगातार अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं, तो वे भारतीय टीम में एक महत्वपूर्ण स्थान हासिल कर सकते हैं।

अतिरिक्त जानकारी:

अगले मैच: 2024 में भारत का अगला अंतरराष्ट्रीय मैच 20 अप्रैल को श्रीलंका के खिलाफ होगा। यह देखना दिलचस्प होगा कि अय्यर को टीम में शामिल किया जाता है या नहीं।
आईपीएल: अय्यर आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान हैं। 2023 सीज़न में उनका प्रदर्शन अच्छा रहा था, उन्होंने 14 मैचों में 430 रन बनाए थे।

Shreyas Iyer को लेकर BCCI का फैसला

Shreyas Iyer ; 1 इनफॉर्म बल्लेबाज़ जिसने वर्ल्ड कप में अपने बल्ले से बरसाया कहर , BCCI ने फिर भी किया बाहर आखिर क्यों ?

Alia Bhatt कि नई मूवी: जो तोड़ सकती है बॉक्स ऑफिस का रिकार्ड

बीसीसीआई ने 2024-2025 के लिए जारी किए गए केंद्रीय अनुबंधों में श्रेयस अय्यर को शामिल नहीं किया है। यह फैसला थोड़ा आश्चर्यजनक है क्योंकि अय्यर एक प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं और उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में भारतीय टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है।

Shreyas Iyer को बाहर करने के कुछ संभावित कारण:

अनियमित प्रदर्शन: अय्यर ने पिछले कुछ समय में लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है।
चोटों का सामना: अय्यर को चोटों का भी सामना करना पड़ा है, जिसके कारण वे टीम से अंदर-बाहर होते रहे हैं।
रणजी ट्रॉफी में नहीं खेलना: अय्यर को रणजी ट्रॉफी में खेलने के लिए कहा गया था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।
युवा खिलाड़ियों को मौका देना: बीसीसीआई युवा खिलाड़ियों को मौका देना चाहता है।
Shreyas Iyer के बाहर होने के बाद, कुछ लोगों ने इस फैसले की आलोचना की है, जबकि कुछ लोगों ने इसका समर्थन किया है।

आलोचना करने वालों का कहना है:

अय्यर को एक और मौका दिया जाना चाहिए था।
अय्यर को बाहर करने से टीम कमजोर होगी।

https://zchamp.com/web-stories/what-reason-did-bcci-give-for-keeping-hardik-in-grade-a-why-was-there-a-bombardment-of-questions/
समर्थन करने वालों का कहना है:

यह फैसला सही है क्योंकि Shreyas Iyer ने लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है।
यह फैसला युवा खिलाड़ियों को प्रेरित करेगा।
यह देखना बाकी है कि अय्यर इस फैसले पर कैसे प्रतिक्रिया देते हैं और क्या वे टीम में वापसी कर पाते हैं।

Shreyas Iyer के अलावा, ईशान किशन को भी केंद्रीय अनुबंध से बाहर कर दिया गया है।

यह भी ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि बीसीसीआई ने ऋषभ पंत को केंद्रीय अनुबंध में ए ग्रेड दिया है। यह पंत के लिए एक बड़ी उपलब्धि है और यह दर्शाता है कि बीसीसीआई उन पर कितना भरोसा करता है।

अंत में, यह कहना उचित होगा कि BCCI का यह फैसला थोड़ा जोखिम भरा है, लेकिन यह देखना दिलचस्प होगा कि यह टीम को कैसे प्रभावित करता है।

Pankaj yadav

पंकज यादव (रॉयल) एक प्रसिद्ध खेल समाचार एंकर हैं जो अपनी मनोरम प्रस्तुति और व्यावहारिक विश्लेषण के लिए जाने जाते हैं। स्क्रीन पर प्रभावशाली उपस्थिति के साथ, उन्होंने विभिन्न खेल आयोजनों के व्यापक कवरेज के लिए एक वफादार अनुयायी अर्जित किया है। सटीक और आकर्षक सामग्री प्रदान करने के प्रति उनके समर्पण ने खेल पत्रकारिता की दुनिया में एक विश्वसनीय आवाज के रूप में उनकी प्रतिष्ठा को मजबूत किया है।

Leave a Comment