Gautam Gambhir का KKR के साथ साथ भारतीय क्रिकेट टीम में भी बजेगा डंका बने टीम के हेड कोच?

By Pankaj yadav

Published on:

Gautam Gambhir का KKR के साथ साथ भारतीय क्रिकेट टीम में भी बजेगा डंका बने टीम के हेड कोच?

Gautam Gambhir बने टीम के हेड कोच

Gautam Gambhir को भारतीय टीम का हेड कोच बनाया गया है। इसकी जानकारी बीसीसीआई सचिव जय शाह ने सोशल मीडिया पर दी है। गंभीर अब राहुल द्रविड़ की जगह लेंगे। राहुल द्रविड़ का कार्यकाल टी20 वर्ल्‍ड कप 2024 के बाद समाप्‍त हो गया था। ऐसे में बोर्ड को नए सचिव की तलाश थी।

जय शाह ने किया एलान

जय शाह ने एक्‍स पर लिखा, “मुझे गौतम गंभीर को भारतीय क्रिकेट टीम के नए हेड कोच के रूप में स्वागत करते हुए बेहद खुशी हो रही है। आधुनिक क्रिकेट तेजी से विकसित हुआ है और गौतम ने इस बदलते समय को करीब से देखा है। अपने पूरे करियर में कठिनाइयों का सामना करने और विभिन्न भूमिकाओं में शानदार प्रदर्शन करने के बाद, मुझे विश्वास है कि गौतम भारतीय क्रिकेट को आगे बढ़ाने के लिए एक सही व्यक्ति हैं।

यहां भी ध्यान दे Zomato Share Price आधा हो जाएगा इस कम्पनी के शेयरों का भाव ! एक्सपर्ट की भविष्यवाणी से डरे निवेशक,5 फीसदी का हुआ उतार चढ़ाव ?

वर्ल्‍ड कप 2007 20011 जीतने में Gautam Gambhir के योगदान 

Gautam Gambhir ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 2007 टी20 विश्व कप और 2011 आईसीसी क्रिकेट विश्व कप जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उनकी योगदान इन दोनों टूर्नामेंट्स में निर्णायक रहा। यहाँ हम दोनों टूर्नामेंट्स में गौतम गंभीर के योगदान के बारे में विस्तार से जानेंगे:

2007 टी20 विश्व कप:

  1. महत्वपूर्ण पारियाँ (Key Innings):
    • फाइनल मैच: 2007 टी20 विश्व कप के फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ गौतम Gautam Gambhir ने 54 गेंदों पर 75 रन बनाए। उनकी इस महत्वपूर्ण पारी ने भारत को एक प्रतिस्पर्धी स्कोर बनाने में मदद की। उन्होंने अपनी पारी में 8 चौके और 2 छक्के लगाए। यह पारी फाइनल में भारत की जीत की नींव बनी और अंततः भारत ने यह मैच 5 रन से जीता।
    • अन्य मैच: टूर्नामेंट के दौरान गौतम गंभीर ने लगातार अच्छे प्रदर्शन किए और टीम के लिए स्थिरता प्रदान की।
  2. प्रभाव (Impact):
    • गौतम गंभीर की आक्रामक बल्लेबाजी और संयम ने भारतीय टीम को कई महत्वपूर्ण मौकों पर समर्थन दिया।
    • उनकी पारी ने फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ दबाव को झेलने और भारतीय टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।

2011 आईसीसी क्रिकेट विश्व कप:

  1. महत्वपूर्ण पारियाँ (Key Innings):
    • फाइनल मैच: 2011 क्रिकेट विश्व कप के फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ गौतम गंभीर ने 97 रन की बेहद महत्वपूर्ण पारी खेली। उनकी यह पारी भारतीय पारी की रीढ़ बनी और मुश्किल समय में टीम को स्थिरता प्रदान की। उन्होंने 122 गेंदों पर 9 चौके लगाए।
    • सेमी-फाइनल मैच: पाकिस्तान के खिलाफ सेमी-फाइनल में भी Gautam Gambhir ने 27 रन बनाए थे, जो एक उपयोगी योगदान था।
  2. प्रभाव (Impact):
    • फाइनल मैच में गंभीर की पारी ने लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। जब सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग जल्दी आउट हो गए थे, तब गंभीर ने विराट कोहली और फिर महेंद्र सिंह धोनी के साथ महत्वपूर्ण साझेदारियाँ की।
    • उनकी पारी ने भारत को 28 साल बाद दूसरी बार विश्व कप जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

सारांश:

Gautam Gambhir का योगदान 2007 टी20 विश्व कप और 2011 आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में न केवल उनकी बल्लेबाजी क्षमता बल्कि उनकी मानसिक दृढ़ता और दबाव में प्रदर्शन करने की क्षमता का भी प्रमाण है। उनके प्रदर्शन ने भारतीय क्रिकेट के इतिहास में इन दोनों जीतों को संभव बनाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

यह भी पढ़े Deepika Padukone : प्रेम और विवाह और उनका निजी जीवन रोमांटिक रिश्तों, उनके पति रणवीर सिंह के साथ शादी और उनके पारिवारिक जीवन

Gautam Gambhir का KKR के लिए अहम योगदान

Gautam Gambhir ने कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) के लिए एक अहम योगदान दिया है, विशेषकर उनकी कप्तानी के दौरान। यहां उनके कुछ महत्वपूर्ण योगदान की बात की जा सकती है:

  1. कप्तानी का संभाल: गौतम गंभीर ने 2011 और 2012 में कोलकाता नाइटराइडर्स की कप्तानी की, जब उन्होंने टीम को दो बार आईपीएल (IPL) खिताब जीतने में मार्गदर्शन किया।
  2. लीडरशिप और दबाव में कार्य: उनकी कप्तानी के दौरान, गंभीर ने टीम को सजीव, अग्रसर और योग्य रूप से प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने अपनी लीडरशिप के दम पर टीम में समन्वय और एकता बढ़ाई।
  3. बल्लेबाजी का योगदान: गंभीर ने अपनी बल्लेबाजी से भी KKR को मजबूती दी, खासकर बड़े मैचों में उनकी निरंतर और विश्वसनीय बल्लेबाजी ने टीम को अच्छे स्कोरों पर पहुंचने में मदद की।
  4. आईपीएल खिताब: गंभीर की कप्तानी में KKR ने 2012 में IPL खिताब जीता, जब उन्होंने टीम को फाइनल में लेकर जीत दिलाई। यह उनके लिए और टीम के लिए एक महत्वपूर्ण अंदाज रहा।

इस प्रकार, Gautam Gambhir ने अपने क्रिकेट करियर के दौरान KKR के लिए एक महत्वपूर्ण और सफल योगदान दिया, जो उन्हें एक प्रमुख खिलाड़ी और लीडर के रूप में स्थापित करता है।

Pankaj yadav

पंकज यादव (रॉयल) एक प्रसिद्ध खेल समाचार एंकर हैं जो अपनी मनोरम प्रस्तुति और व्यावहारिक विश्लेषण के लिए जाने जाते हैं। स्क्रीन पर प्रभावशाली उपस्थिति के साथ, उन्होंने विभिन्न खेल आयोजनों के व्यापक कवरेज के लिए एक वफादार अनुयायी अर्जित किया है। सटीक और आकर्षक सामग्री प्रदान करने के प्रति उनके समर्पण ने खेल पत्रकारिता की दुनिया में एक विश्वसनीय आवाज के रूप में उनकी प्रतिष्ठा को मजबूत किया है।

1 thought on “Gautam Gambhir का KKR के साथ साथ भारतीय क्रिकेट टीम में भी बजेगा डंका बने टीम के हेड कोच?”

Leave a Comment