Condom addiction नशे के लिए उपयोग कर रहे हैं युवा ?

By Pankaj yadav

Published on:

Condom addiction नशे के लिए उपयोग कर रहे हैं युवा ?
Condom addiction

पश्चिम बंगाल के युवाओं में इन दिनों अचानक Condom की मांग बढ़ गई है। दरअसल युवा कंडोम का इस्तेमाल इस खास चीज के लिए कर रहे हैं

दुनिया में कुछ अजीबो-गरीब घटनाएं होती रहती हैं। कुछ की खूब चर्चा होती है तो कुछ खबर नहीं बन पाती हैं। इसी तरह युवावर्ग में अब नशे की प्रवृति देखने को मिल रही है। युवा नशे के रूप में केवल दारू शराब, भांग, बीड़ी, सिगरेट का सेवन नहीं करते हैं, बल्कि नशे के रूप में नेल पॉलिश, टायर का पंचर जोड़ने वाली ट्यूब, पेंट आदि का इस्तेमाल कर रहे हैं।

Condom addiction नशे के लिए उपयोग कर रहे हैं युवा ?

Chanakya Niti : शादी के बाद औरतों को इस कारण पसंद आते हैं गैर मर्द।

नशे के रूप युवा कर रहे हैं कंडोम का इस्तेमाल

पश्चिम बंगाल के युवाओं में अचानक कंडोम की बिक्री बढ़ गई है। दरअसल, युवा कंडोम का इस्तेमाल नशे के रूप में कर रहे हैं। युवा फ्लेवर्ड कंडोम को गर्म पानी में भिगो देते हैं। फिर कंडोम को निकालकर अलग कर देते हैं और पानी को पी लेते हैं। इससे उनमें लंबे समय तक नशा रहता है। युवा पढ़ाई के सिलसिले में घर से दूर हॉस्टल में या रूम लेकर रहते हैं, ऐसे में गलत संगत में पड़कर वह नशा करने लगते हैं।

नशे के रूप में वह ज्यादातर दारू या शराब का सेवन नहीं कर पाते हैं, क्योंकि यह महंगा मिलता है। लेकिन नशे की आदत ऐसी है की, युवाओं को नशा किसी भी हालत में चाहिए। इसके लिए वह कंडोम का इस्तेमाल करते हैं। कंडोम सस्ता मिलता है और इससे नशा भी लंबे समय तक रहता है।

अचानक बढ़ी बिक्री से दुकानदार हैं हैरान

Condom की अचानक बढ़ी डिमांड से दुकानदार हैरान हैं। एक दुकानदार के मुताबिक, जहां पहले युवा कंडोम मांगने में शर्म महसूस करते थे, वहां अब वह बेहिचक कंडोम मांगते हैं। दुकानदार के अनुसार, सर्च करने पर पता चला की हॉस्टल में रहने वाले या कॉलेज कैंपस के लड़के रोज नशा करते हैं और इसके लिए वह अब कंडोम का इस्तेमाल कर रहे हैं।

Deepika Padukone प्रेगनेंट नहीं है वह सिर्फ 1 झूठ का सहारा ले रही है ?

नशे के रूप में कंडोम का इस्तेमाल खतरनाक

Condom addiction नशे के लिए उपयोग कर रहे हैं युवा ?

एक रिसर्च के अनुसार, Condom से नशा करना खतरे से खाली नहीं है। फ्लेवर्ड कंडोम में जहरीले कंपाउंड होते हैं जो कैंसर का कारण बन सकते हैं। ऐसे में युवाओं को कंडोम से नशा नहीं करना चाहिए।

क्या कंडोम कभी एक्सपायर होता है? जानिए कितने दिन तक कर सकते हैं यूज

जब कभी भी आप कोई खाने का सामान खरीदते हैं या फिर दवाइयां खरीदते हैं तो सबसे पहले उस पर लिखी एक्सपायरी डेट देखते हैं या फिर देखते हैं कि आखिर इसे कम तक इस्तेमाल किया जा सकता है. लेकिन, क्या ऐसा लोग कंडोम खरीदते वक्त करते हैं. क्या आपने भी कभी कंडोम खरीदते वक्त Condom की एक्सपायरी डेट जानने की कोशिश की है.

शायद इसका जवाब ना ही होगा. लेकिन, सवाल ये भी है कि आखिर कंडोम की भी कोई एक्सपायरी डेट होती है? क्या कंडोम को उसकी मैन्युफैक्चरिंग डेट के कुछ निश्चित समय तक ही इस्तेमाल किया जा सकता है और अगर ऐसा है तो इसके इस्तेमाल करने का टाइम क्या होगा?

Political Map of India with Economic Zones with 8 essential thinks
Condom addiction नशे के लिए उपयोग कर रहे हैं युवा ?

तो आज हम आपको देते हैं इन्हीं सवालों के जवाब कि आखिर Condom के इस्तेमाल को लेकर कोई तय सीमा है या फिर कितने साल तक भी इसे इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके अलावा ये भी जानने की कोशिश करते हैं कि अगर कोई एक्सपायरी कंडोम का इस्तेमाल कर ले है तो बॉडी पर इसके क्या नेगेटिव प्रभाव हो सकते हैं…

क्या कंडोम एक्सपायर होते हैं?

पहले तो आपको बता दें कि Condom भी अन्य सामानों की तरह एक्सपायर होते हैं. ऐसे में जब भी कंडोम खरीदने जाएं तो उसकी एक्सपायरी डेट जरूर देखनी चाहिए. हर कंडोम के पैकेट पर उसकी एक्सपायरी डेट भी लिखी होती है और उसे खरीदने से पहले ये देख लेना जरूरी होता है. दरअसल, कुछ सालों के बाद कंडोम एक्सपायर हो जाते हैं, इसलिए एक्सपायरी डेट वाले कंडोम का यूज करने से बचना चाहिए.

हालांकि, कई रिपोर्ट्स में ये भी कहा गया है कि कई बार सिर्फ टाइम की वजह से ही नहीं, कई अन्य कारणों से भी Condom खराब हो जाता है. अगर कंडोम को अच्छे से नहीं रखा जाए तो भी ये खराब हो सकता है. ऐसे में अगर कंडोम सूखा हो या फिर चिपचिपा हो या फिर कुछ टाइट लगे तो उसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए और दूसरे कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए.

Vivo X Fold 3 Pro vs OnePlus: किसका कस्टम यूजर इंटरफेस है बेहतर?
Condom addiction नशे के लिए उपयोग कर रहे हैं युवा ?
एक्सपायरी कंडोम यूज कर लिया तो क्या होगा?

एक्सपायरी डेट के बाद Condom का यूज करने से कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है. दरअसल, एक टाइम बाद कंडोम टूटना शुरू हो जाता है और लुब्रिकेंट खत्म होने लगता है. इससे कंडोम में छेद होने और फटने के चांस बढ़ जाते हैं. ऐसे में कंडोम प्रेग्नेंसी रोकने में काफी कम प्रभावी हो जाता है. सीधे शब्दों में कहें तो एक्सपायरी Condom के इस्तेमाल से कंडोम से होने वाले फायदे खत्म हो जाएंगे.

Pankaj yadav

पंकज यादव (रॉयल) एक प्रसिद्ध खेल समाचार एंकर हैं जो अपनी मनोरम प्रस्तुति और व्यावहारिक विश्लेषण के लिए जाने जाते हैं। स्क्रीन पर प्रभावशाली उपस्थिति के साथ, उन्होंने विभिन्न खेल आयोजनों के व्यापक कवरेज के लिए एक वफादार अनुयायी अर्जित किया है। सटीक और आकर्षक सामग्री प्रदान करने के प्रति उनके समर्पण ने खेल पत्रकारिता की दुनिया में एक विश्वसनीय आवाज के रूप में उनकी प्रतिष्ठा को मजबूत किया है।

Leave a Comment